Talks With Students



Question: Why do we hate the poor?


Krishnamurti: Do you hate the poor? Do you hate the poor woman who is carrying the heavy basket on her head, walking all the way from Saraimohana to Banaras? Do you hate her with her torn clothes, dirty?

प्रश्न : हम गरीबों से घृणा क्यों करते हैं?


कृष्णमूर्ति : क्या आप गरीबों से घृणा करते हैं? सराय-मोहाना से बनारस के पूरे रास्ते भर सर पर भरी टोकरी ढोकर ले जाती हुई उस गरीब स्त्री से आप घृणा करते हैं? क्या आप उससे और उसके फटे-पुराने मैले वस्त्रों से, गरीबों से घृणा करते हैं?

Read more >>

Question: Why do we fight in this world?


Krishnamurti: Why do we fight? You want something and I want the same thing, so we fight for it. You are clever, I am not clever, and we fight about it.

प्रश्न : इस संसार में हम आपस में लड़ते-झगड़ते क्यों हैं?


कृष्णमूर्ति : हम लड़ते-झगड़ते क्यों हैं | आप किसी चीज़ को पाना चाहते हैं और मैं भी उसे पाना चाहता हूं इसलिए उसे पाने के लिए हम एक दूसरे से लड़ते-झगड़ते हैं | आप होशियार हैं, मैं होशियार नहीं हूं और इस पर हम झगड़ते हैं |

Read more >>

Habit


For several days we have been talking about fear and the various causes that bring about fear. I think one of the most difficult things, which most of us do not seem to apprehend, is the problem of habit. You know, most of us think that when we are young, we should cultivate good habits as opposed to bad habits, and we are told all the time what bad habits are and what good habits are; we are always told of habits that are worthwhile cultivating, and the habits which we should resist or put away.

आदत


पिछले कुछ दिनों से हम भय और उन विभिन्न कारणों पर बातचीत करते आ रहे हैं जो भय को जन्म देते हैं | ...... हममें से अधिकतर लोग यही मानते हैं कि अपनी छोटी उम्र में ही हमें बुरी आदतों के स्थान पर अच्छी आदतों को अपना लेना चाहिए और हमें लगातार यह बताया जाता है कि बुरी आदतें क्या है और अच्छी आदतें क्या हैं |

Read more >>

Question: Why do we get angry?


Krishnamurti: It may be for many reasons. It may be due to ill-health, to not having slept properly, to not having the right kind of food. It may be purely a physical reaction, a nervous reaction, or it may be much deeper.

प्रश्न : हमें क्रोध क्यों आता है?


कृष्णमूर्ति : इसके कई कारण हो सकते हैं | स्वास्थ्य कि गड़बड़ी के कारण ऐसा हो सकता है, पर्याप्त नींद न होने से ऐसा हो सकता है, उचित प्रकार का भोजन न करने से ऐसा हो सकता है | यह शारीरिक प्रतिक्रिया का एक प्रकार हो सकता है, उत्तेजना के कारण संभव है या इसका कोई अधिक गहरा कारण भी हो सकता है |

Read more >>    top of page ↑

Question: How can we remove our defects forever?


Krishnamurti: You see how the mind wants to be secure. It does not want to be disturbed. It wants forever and forever to be completely safe, and a mind that wants to be completely safe, to get over all difficulties forever and forever, is going to find a way.

प्रश्न : हम अपने दोषों को हमेशा के लिए कैसे दूर कर सकते हैं?


कृष्णमूर्ति : आप यह देख सकते हैं कि मन किस प्रकार से सुरक्षित रहना चाहता है | यह किसी प्रकार का व्यवधान नहीं चाहता | यह सदा-सदा के लिए पूर्ण रूप से सुरक्षित बना रहना चाहता है, और ऐसा मन जो पूरी तरह से सुरक्षित बना रहना चाहता है जो हमेशा के लिए अपनी कठिनाइयों को मिटा देना चाहता है, अवश्य ही इसके लिए कोई उपाय खोज लेगा |

Read more >>    top of page ↑


Previous | 1 | 2 | 3 | 4 | 5 | 6 | 7 | 8 | 9 | Next